top of page
  • Writer's pictureSudhanshu

सफर | Safar

Updated: May 7, 2021

कहने को तो सफर एक छोटा सा शब्द हैं, लेकिन अर्थ जानने बैठे तो पूरी जिंदगी कम पड़ जायेगी। अगर आप इस बात पर ध्यान दें, तो , असल में ये जिंदगी भी एक सफर ही है। हम एक मंजिल के बाद दूसरी की तरफ बढ़ जाते है और दूसरी के बाद तीसरी ऐसे ही एक एक कर के जिंदगी के अंतिम पड़ाव पर पहूंच जाते है।


किसी भी सफर की सबसे महत्वपूर्ण विषय होता है उसकी योजना चाहे जिन्दगी का सफर हो या किसी स्थान का और यही चीज़े हमे अपनी जिंदगी में अपनाना चाहिए ताकि हम अपने लक्ष्य के साथ आगे बढ़ते रहें। हर इंसान की ख़्वाहिश होती है कि वो बड़े बड़े सफर को पूरा करे लेकिन हम ये भूल जाते है कि हमारा जीवन भी तो एक सफर है।


जब हम किसी सफर में होते है तो हमे अनेको प्रकार की समस्याओं का सामना करना पड़ता है। उस समय हम पीछे नही हटने का फैसला लेते है क्योंकि हमें पता होता है की हमारी मंजिल हमारा इंतजार कर रही है ऐसे ही अपनी जिंदगी के साथ भी करना चाहिए।


ऐसे ही हम जिंदगी में भी अपने एक कार्य को पूरा करते है और दूसरे के तरफ बढ़ जाते है। जरूरी नहीं की सभी सफर अच्छे हो या सफर का सभी दिन अच्छा हो। सफर चाहे जैसा भी हो, हमें इस बात पर धयान देना चाहिए की हम उससे कुछ सीखें और आगे चलते रहे यही तो जिंदगी भी सीखाती है। कभी कोई सफर लम्बा होता है तो कभी कोई सफर छोटा जरूरी ये है की आप उसके हर एक पल को कितनी प्रसन्नता से व्यतीत किया गया है।


हमे मंजिल जरूर पता होती है लेकिन जब हम उसके बिल्कुल करीब होते है तब उसकी उत्सुकता ही हमे उससे उसकी असली पहचान कराती है और जरूरी नहीं है कि आप सभी सफर में सफलता ही हासिल करे कभी कभी अनुभव भी होना बहुत ज़रूरी होता है।


और इन्हीं छोटे छोटे अनुभव से हम एक दिन जीवन के बड़े से बड़े फैसले को आसानी से ले सकते हैं बस जरूरत है तो निरंतर प्रयास करने की जिससे हम और सभी लोगो के लिए प्रेरणा के श्रोत बन सके।


लेखक

सुधांशु

48 views0 comments

Recent Posts

See All

コメント


Subscribe For Latest Updates

Thanks for subscribing!

bottom of page